Rajesh Exports Story : ये शख़्स पूरी दुनिया को बेचता है सोना! बना दी 10800 करोड़ की कंपनी

Rajesh Exports Story: भारत में रोज ना रोज कोई नया स्टार्टअप आ रहा है। ये भारत के विकास के लिए बहुत अच्छी बात है। आज हम ऐसे की एक शख़्स के बारे में बात करने वाले हैं जिसने ये स्टार्टअप कल्चर आने से पहले ही अपना स्टार्टअप चालू कर दिया था। चलिये तो आज हम बात करने वाले हैं राजेश एक्सपोर्ट्स (Rajesh Exports Story) की..

Rajesh Exports एक भारतीय कंपनी है जो सोने और हीरे के आभूषणों के निर्माण और निर्यात में लगी हुई है। कंपनी की स्थापना 1970 में हुई थी और इसका मुख्यालय मुंबई, महाराष्ट्र में स्थित है। कंपनी भारत के सबसे बड़े सोने और हीरे के निर्यातकों में से एक है।

Rajesh Exports भारत के विभिन्न हिस्सों से सोने और हीरे की खरीद करती है और फिर उन्हें दुनिया भर में निर्यात करती है। कंपनी के प्रमुख निर्यात गंतव्यों में संयुक्त राज्य अमेरिका, यूरोप, और मध्य पूर्व शामिल हैं।

Rajesh Exports Story
Rajesh Mehta

कौन हैं राजेश मेहता?

राजेश मेहता एक भारतीय अरबपति व्यवसायी हैं, जो बेंगलुरु में स्थित आभूषण कंपनी राजेश एक्सपोर्ट्स के मालिक और कार्यकारी अध्यक्ष हैं। 2023 में, फोर्ब्स ने उनकी कुल संपत्ति $2.6 बिलियन आंकी, जो उन्हें भारत के 61वें सबसे अमीर व्यक्ति बनाती है।

राजेश मेहता के शुरुवात के दिन – Rajesh Exports Story

राजेश मेहता का जन्म 20 जून 1964 को गुजरात के राजकोट में हुआ था। उनके पिता, जसवंतरी मेहता, ज्वैलरी बिजनेस के लिए कर्नाटक आए थे। महज 16 साल की उम्र में राजेश भी पिता के साथ काम करने लगे। उन्होंने और उनके भाई प्रशांत ने अपने पिता के व्यवसाय को बढ़ाने का संकल्प लिया।

मेहता ने चांदी का व्यवसाय शुरू करने के लिए अपने भाई बिपिन से 12000 रुपये कर्ज लिया। इस दौरान राजेश मेहता चेन्नई से आभूषण खरीदते थे और राजकोट में बेच देते थे। इसके बाद उन्होंने गुजरात में थोक विक्रेताओं को आभूषण बेचना शुरू किया।

Rajesh Exports Story
Shubh Jwelers

10,000 के उधार से 13,800 करोड़ की कंपनी बना दी

राजेश ने ज्वैलरी उद्योग में कुछ बड़ा करना चाहते हुए अपने भाई से 2,000 रुपए उधार लिए और फिर बैंक से 8,000 रुपए का लोन लिया। चांदी बेच के मिली सफ़ता के बाद उनको ने हैदराबाद, बेंगलुरु और चेन्नई में अपना कारोबार बढ़ाया। उनका जीवन तब बदला जब उन्हें सोने के आभूषण बनाने में कदम रखा। आज कर्नाटक में शुभ ज्वेलर्स के नाम से उनके बहुत सारे स्टोर हैं। आज उनके पास अपना खुद का गोल्ड मैन्युफैक्चरिंग यूनिट है, जिसकी मदद से वो सोना पूरी दुनिया में बेचते हैं।

1982 में, मेहता ने अपने भाई प्रशांत के साथ मिलकर राजेश एक्सपोर्ट्स की स्थापना की। कंपनी ने शुरू में भारत से चांदी के आभूषणों का निर्यात किया। 1990 के दशक में, कंपनी ने सोने के आभूषणों के निर्यात में विस्तार किया। आज, राजेश एक्सपोर्ट्स दुनिया के सबसे बड़े सोने और हीरे के निर्यातकों में से एक है। आज वो ही गोल्ड मैन्युफैक्चरिंग यूनिट का नाम राजेश एक्सपोर्ट्स (Rajesh Exports Story) है, जिसका वैल्यूएशन 13,800 करोड़ है।

Listed in स्टॉक मार्केट – Rajesh Exports Story

आपको बता दें कि राजेश मेहता की ये कंपनियां शेयर बाजार में भी लिस्टेड हैं, जिनकी मार्केट कैप 13,800 करोड़ रुपए है।

साथ ही, हम आपको बताया कि राजेश एक्सपोर्ट्स के पास स्विट्जरलैंड में अपना खुद का सोना रिफाइनरी है। हमेशा सकारात्मक सोच और खुद पर विश्वास ने राजेश मेहता को आज इतनी बड़ी कंपनी बनाने में सक्षम बनाया है।

Rajesh Mehta Interview

ALSO READ:

OPPO A18 Discount मिल रहा है 1000 रुपये का डिस्काउंट, सिर्फ ₹8,999 में फ़ोन मिलने वाला है Top 5 scam movies : घोटाले पे बनी यह 5 फिल्म आपको जरूर देखनी चाहिए Tank 2 Smartphone आ रहा है 15500 mAh की बैटरी के साथ , जानिये फीचर्स Tecno Phantom V Fold 5G Features Asus ROG Phone 8 Launch Date in india जानिए फीचर्स और कीमत
OPPO A18 Discount मिल रहा है 1000 रुपये का डिस्काउंट, सिर्फ ₹8,999 में फ़ोन मिलने वाला है Top 5 scam movies : घोटाले पे बनी यह 5 फिल्म आपको जरूर देखनी चाहिए Tank 2 Smartphone आ रहा है 15500 mAh की बैटरी के साथ , जानिये फीचर्स Tecno Phantom V Fold 5G Features Asus ROG Phone 8 Launch Date in india जानिए फीचर्स और कीमत